24.3 C
Dehradun
Monday, September 28, 2020
Home Uttarakhand News Uttarakhand: Accident In Pithoragarh

News Uttarakhand: Accident In Pithoragarh

रसैपाट-खनपर सड़क में पिकप वाहन दुर्घटना ग्रस्त हो गया। संवाद न्यूज एजेंसी
– फोटो : PITHORAGARH

ख़बर सुनें

पिथौरागढ़। रसैपाटा-खनपर सड़क पर एक पिकप वाहन दुर्घटना ग्रस्त हो गया। इसमें खनपर की प्रधान सपना देवी के पति की मौत हो गई जबकि एक गंभीर रूप से घायल हो गया। हादसे के बाद मृतक के घर में कोहराम मचा हुआ है।
रविवार को सड़क निर्माण का सामान लेकर जा रहा पिकप (यूके 05सीए 1208) खनपर ग्राम पंचायत के भगवती मंदिर के पास अनियंत्रित होकर 500 मीटर गहरी खाई में गिर गया। हादसे में मनमोहन तिवारी और कल्याण सिंह घायल हो गए। स्थानीय निवासी गिरीश चंद्र भट्ट ने ग्रामीणों को हादसे की जानकारी दी। ग्रामीणों ने दोनों घायलों को खाई से बाहर निकालकर 108 वाहन से जिला अस्पताल भेजा। हादसे में गंभीर घायल मनमोहन तिवारी (सोनू)के सिर, पैर, कमर में गंभीर चोट आ गई थी। जिला अस्पताल पहुंचने पर चिकित्सकों ने मनमोहन तिवारी को मृत घोषित कर दिया। हादसे में घायल भूपेंद्र सिंह (31) पुत्र कल्याण सिंह के सिर, पैर में चोटें आई हैं। फिलहाल अब उनकी स्थिति सही बताई जा रही है।
पति की मौत की सूचना के बाद पत्नी हुई बेसुध
पिथौरागढ़। खनपर निवासी मनमोहन तिवारी (सोनू)की मौत के बाद परिजनों बेसुध पड़े हुए हैं। मनमोहन की पत्नी सपना तिवारी, बेटी काव्या तिवारी, पिता हरी दत्त और मां मथुरा देवी का रो-रोकर बुरा हाल है।
बेहद मिलनसार और लोगों की मददगार थे मनमोहन
पिथौरागढ़। जहां एक ओर पूरे गांव में होली का जश्न था। वहीं सड़क हादसे में प्रधान पति की मौत के बाद युवाओं और महिलाओं की होली की तैयारी धरी की धरी रह गई। मनमोहन तिवारी की मौत का लोगों को विश्वास नहीं हो रहा है। ग्रामीणों का कहना है कि इस बार होली के आयोजन का मन था, लेकिन मनमोहन की मौत के बाद होली का जश्न मातम में बदल गया। लोगों का कहना है कि मनमोहन सिंह मिलनसार स्वभाव के थे और लोगों की मदद करते थे। ग्रामीणों को उनकी मौत पर विश्वास नहीं हो पा रहा है।
हेल्पिया में कैंटर वाहन दुर्घटनाग्रस्त तीन घायल
अस्कोट (पिथौरागढ़)। अस्कोट हेल्पिया के पास शनिवार रात एक कैंटर दुर्घटनाग्रस्त हो गया। हादसे में चालक और परिचालक सहित तीन लोग घायल हो गए। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर रेस्क्यू अभियान चलाकर घायलों को खाई से निकालकर अस्पताल पहुंचाया। पुलिस सूचना पाकर थानाध्यक्ष मो. आसिफ खान के नेतृत्व में घटना स्थल पहुंची। हादसे में घायल चंद्रशेखर भट्ट, प्रकाश सिंह ऐरी निवासी मड़मानले और धन बहादुर को रेस्क्यू अभियान चलाकर खाई से बाहर निकाला। पुलिस ने तीनों को घायलों को 108 वाहन से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र डीडीहाट पहुंचाया। पुलिस टीम में एसआई प्रकाश पांडे, कुंदन सिंह, हरीश पुरी, अभिराज सिंह, भगवत मेहरा, शैलेंद्र मेहता मौजूद रहे।
पांच सालों में 127 सड़क हादसों में178लोगों की मौत 153 घायल
पिथौरागढ़। जिले की बदहाल सड़कों पर सड़क हादसे लगातार बढ़ते जा रहे हैं। पिछले पांच सालों में हुए 127 सड़क हादसों में 178 लोगों ने जान गवाई। इन हादसों में 153 से अधिक लोग घायल हुए। बावजूद इसके इन दुर्घटना संभावित क्षेत्रों में सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए कोई प्रभावी कदम नहीं उठाए जा रहे हैं।
जिले की बदहाल सड़कों में लगातार सड़क हादसे बढ़ते जा रहे हैं। सड़क हादसों 2015 में 18 सड़क हादसों में 39 लोगों ने अपी जान गवाई और 23 लोग घायल हुए। वर्ष 2016 में 31 सड़क हादसों में 52 लोगों की मौत और 43 लोग घायल हुए। 2017 में 32 सड़क हादसों में 40 लोगों ने अपनी जान गवाई और 25लोग घायल हुए। वर्ष 2019 में अभी तक हुए 09 सड़क हादसों में 07 लोगों की मौत और 9 लोग घायल हुए। वर्ष 2020 दो सड़क हादसों में 03 लोगों की मौत और एक व्यक्ति घायल हो चुका है। बावजूद इसके सड़क हादसों को रोकने को लेकर कोई प्रभावी कदम नहीं उठाए जा रहे हैं। जिले कें दुर्घटना संभावित क्षेत्रों में अभी तक कोई सुरक्षात्मक कार्य नहीं किए गए हैं।
दुर्घटना संभावित क्षेत्रों में नहीं लगाए गए हैं चेतावनी बोर्ड
पिथौरागढ़। जिले के दुर्घटना संभावित क्षेत्र सतगढ़, गुड़ौली, बलधार, गिनी बैंड सहित कई हिस्सों में चेतावनी बोर्ड नहीं लगाए गए हैं। जिले में अधिकतर सड़क हादसे जिले की बदहाल पड़ी सड़कों पर हो रहे हैं। लंबे समय से लोग सड़कों को ठीक करने की मांग कर रहे हैं। इसके बाद भी इन सड़कों को ठीक करने को लेकर कोई प्रभावी कदम नहीं उठाए जा रहे हैं।
पिछले पांच सालों में हुए सड़क हादसों का विवरण
वर्ष – सड़क हादसे – मृत – घायल
2015 – 18 – 39 – 23
2016 – 31 – 52 – 43
2017 – 32 – 37 – 52
2018 – 35 – 40 – 25
2019 – 09 – 07 -09
2020 – 02 – 03 – 01
सड़क हादसों को रोकने के लिए पुलिस लगातार अभियान चलाकर लोगों को जागरूक कर रही है। शराब पीकर कोई वाहन चलाए इसके लिए जगह-जगह चेकिंग की जा रही है। – आरएस रौतेला, सीओ पिथौरागढ़।

पिथौरागढ़। रसैपाटा-खनपर सड़क पर एक पिकप वाहन दुर्घटना ग्रस्त हो गया। इसमें खनपर की प्रधान सपना देवी के पति की मौत हो गई जबकि एक गंभीर रूप से घायल हो गया। हादसे के बाद मृतक के घर में कोहराम मचा हुआ है।

रविवार को सड़क निर्माण का सामान लेकर जा रहा पिकप (यूके 05सीए 1208) खनपर ग्राम पंचायत के भगवती मंदिर के पास अनियंत्रित होकर 500 मीटर गहरी खाई में गिर गया। हादसे में मनमोहन तिवारी और कल्याण सिंह घायल हो गए। स्थानीय निवासी गिरीश चंद्र भट्ट ने ग्रामीणों को हादसे की जानकारी दी। ग्रामीणों ने दोनों घायलों को खाई से बाहर निकालकर 108 वाहन से जिला अस्पताल भेजा। हादसे में गंभीर घायल मनमोहन तिवारी (सोनू)के सिर, पैर, कमर में गंभीर चोट आ गई थी। जिला अस्पताल पहुंचने पर चिकित्सकों ने मनमोहन तिवारी को मृत घोषित कर दिया। हादसे में घायल भूपेंद्र सिंह (31) पुत्र कल्याण सिंह के सिर, पैर में चोटें आई हैं। फिलहाल अब उनकी स्थिति सही बताई जा रही है।
पति की मौत की सूचना के बाद पत्नी हुई बेसुध
पिथौरागढ़। खनपर निवासी मनमोहन तिवारी (सोनू)की मौत के बाद परिजनों बेसुध पड़े हुए हैं। मनमोहन की पत्नी सपना तिवारी, बेटी काव्या तिवारी, पिता हरी दत्त और मां मथुरा देवी का रो-रोकर बुरा हाल है।
बेहद मिलनसार और लोगों की मददगार थे मनमोहन
पिथौरागढ़। जहां एक ओर पूरे गांव में होली का जश्न था। वहीं सड़क हादसे में प्रधान पति की मौत के बाद युवाओं और महिलाओं की होली की तैयारी धरी की धरी रह गई। मनमोहन तिवारी की मौत का लोगों को विश्वास नहीं हो रहा है। ग्रामीणों का कहना है कि इस बार होली के आयोजन का मन था, लेकिन मनमोहन की मौत के बाद होली का जश्न मातम में बदल गया। लोगों का कहना है कि मनमोहन सिंह मिलनसार स्वभाव के थे और लोगों की मदद करते थे। ग्रामीणों को उनकी मौत पर विश्वास नहीं हो पा रहा है।
हेल्पिया में कैंटर वाहन दुर्घटनाग्रस्त तीन घायल
अस्कोट (पिथौरागढ़)। अस्कोट हेल्पिया के पास शनिवार रात एक कैंटर दुर्घटनाग्रस्त हो गया। हादसे में चालक और परिचालक सहित तीन लोग घायल हो गए। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर रेस्क्यू अभियान चलाकर घायलों को खाई से निकालकर अस्पताल पहुंचाया। पुलिस सूचना पाकर थानाध्यक्ष मो. आसिफ खान के नेतृत्व में घटना स्थल पहुंची। हादसे में घायल चंद्रशेखर भट्ट, प्रकाश सिंह ऐरी निवासी मड़मानले और धन बहादुर को रेस्क्यू अभियान चलाकर खाई से बाहर निकाला। पुलिस ने तीनों को घायलों को 108 वाहन से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र डीडीहाट पहुंचाया। पुलिस टीम में एसआई प्रकाश पांडे, कुंदन सिंह, हरीश पुरी, अभिराज सिंह, भगवत मेहरा, शैलेंद्र मेहता मौजूद रहे।
पांच सालों में 127 सड़क हादसों में178लोगों की मौत 153 घायल
पिथौरागढ़। जिले की बदहाल सड़कों पर सड़क हादसे लगातार बढ़ते जा रहे हैं। पिछले पांच सालों में हुए 127 सड़क हादसों में 178 लोगों ने जान गवाई। इन हादसों में 153 से अधिक लोग घायल हुए। बावजूद इसके इन दुर्घटना संभावित क्षेत्रों में सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए कोई प्रभावी कदम नहीं उठाए जा रहे हैं।
जिले की बदहाल सड़कों में लगातार सड़क हादसे बढ़ते जा रहे हैं। सड़क हादसों 2015 में 18 सड़क हादसों में 39 लोगों ने अपी जान गवाई और 23 लोग घायल हुए। वर्ष 2016 में 31 सड़क हादसों में 52 लोगों की मौत और 43 लोग घायल हुए। 2017 में 32 सड़क हादसों में 40 लोगों ने अपनी जान गवाई और 25लोग घायल हुए। वर्ष 2019 में अभी तक हुए 09 सड़क हादसों में 07 लोगों की मौत और 9 लोग घायल हुए। वर्ष 2020 दो सड़क हादसों में 03 लोगों की मौत और एक व्यक्ति घायल हो चुका है। बावजूद इसके सड़क हादसों को रोकने को लेकर कोई प्रभावी कदम नहीं उठाए जा रहे हैं। जिले कें दुर्घटना संभावित क्षेत्रों में अभी तक कोई सुरक्षात्मक कार्य नहीं किए गए हैं।
दुर्घटना संभावित क्षेत्रों में नहीं लगाए गए हैं चेतावनी बोर्ड
पिथौरागढ़। जिले के दुर्घटना संभावित क्षेत्र सतगढ़, गुड़ौली, बलधार, गिनी बैंड सहित कई हिस्सों में चेतावनी बोर्ड नहीं लगाए गए हैं। जिले में अधिकतर सड़क हादसे जिले की बदहाल पड़ी सड़कों पर हो रहे हैं। लंबे समय से लोग सड़कों को ठीक करने की मांग कर रहे हैं। इसके बाद भी इन सड़कों को ठीक करने को लेकर कोई प्रभावी कदम नहीं उठाए जा रहे हैं।
पिछले पांच सालों में हुए सड़क हादसों का विवरण
वर्ष – सड़क हादसे – मृत – घायल
2015 – 18 – 39 – 23
2016 – 31 – 52 – 43
2017 – 32 – 37 – 52
2018 – 35 – 40 – 25
2019 – 09 – 07 -09
2020 – 02 – 03 – 01
सड़क हादसों को रोकने के लिए पुलिस लगातार अभियान चलाकर लोगों को जागरूक कर रही है। शराब पीकर कोई वाहन चलाए इसके लिए जगह-जगह चेकिंग की जा रही है। – आरएस रौतेला, सीओ पिथौरागढ़।

.(tagsToTranslate)Accident

[Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by News Uttarakhand. Publisher: Amar Ujala]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

नोएडा में फिल्म सिटी बनाने का एलान के बाद नोएडा प्राधिकरण ने उसको लेकर तैयारी भी शुरू कर दी है

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नोएडा में फिल्म सिटी बनाने का एलान के बाद नोएडा में फिल्म सिटी बनाने को लेकर शुरू...

जेल में चौंकाने वाला मामला सामने आया है.. कैदी ने मोबाइल पर बात करने के लिए ऐसी जगह छुपाया मोबाइल,अस्पताल में करना पड़ा...

राजस्थान की जोधपुर की सेंट्रल जेल में एक बहुत ही आश्चर्य करने वाला मामला सामने आया है। यहां एक कैदी ने मोबाइल छिपाने के...

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमित विधायकों की संख्या बढ़ती जा रही है, BJP के 7 और कांग्रेस के 2 विधायक अब तक कोरोना से संक्रमित

विधानसभा के मॉनसून सत्र की अवधि नजदीक आते-आते कोरोना संक्रमित विधायकों की संख्या बढ़ती जा रही है। अभी तक भाजपा के ही विधायक संक्रमित...

उत्तराखंड कोरोना अपडेट: राज्य में कोरोना के रिकॉर्ड 2078 नए मामले, कुल संख्या 40000 के पार, अब तक 478 की मौत

उत्तराखंड में शनिवार को पहली बार एक ही दिन में कोरोना के दो हजार से अधिक मरीज मिले। एक ही दिन में रिकार्ड 2078...

Recent Comments

Translate »