24.3 C
Dehradun
Thursday, August 13, 2020
Home Business News Uttarakhand: Consumer News In Hindi : fathers day ; father ;...

News Uttarakhand: Consumer News In Hindi : fathers day ; father ; This time give the gift of financial help to father, invest in Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana or Monthly Income Scheme for him | इस बार पिता को दें वित्तीय मदद का उपहार, उनके लिए प्रधानमंत्री वय वंदना योजना या मंथली इनकम स्कीम में करें निवेश

  • हर साल जून के तीसरे रविवार को ‘फादर्स डे’ मनाया जाता है। जो कि इस बार 21 जून को पड़ रहा है
  • इस बार पिता को कुछ ऐसा गिफ्ट देना चाहिए जो बुरे वक्त में उनके काम आए

दैनिक भास्कर

Jun 20, 2020, 09:58 AM IST

नई दिल्ली. हर साल जून के तीसरे रविवार को ‘फादर्स डे’ मनाया जाता है। जो कि इस बार 21 जून को पड़ रहा है। इस खास दिन बच्चों का अपने पिता को गिफ्ट देने का चलन है। वैसे तो पिता को कई तरह के गिफ्ट दिए जा सकते हैं, लेकिन आपको इस बार कुछ ऐसा गिफ्ट देना चाहिए जो बुरे वक्त में उनके काम आए। यहां हम फादर्स डे के मौके पर पिता को दिए जा सकने वाले कुछ गिफ्ट्स के बारे में बता रहे हैं।

क्रेडिट कार्ड
अगर आपके पिता रिटायर हो गए हैं और उनके पास आय का कोई निश्चित जरिया नहीं है तो आप उनकी आर्थिक जरूरत को पूरा करने के लिए आप अपने पिता को क्रेडिट कार्ड गिफ्ट दे सकते हैं। कई लोग क्रेडिट कार्ड के दुरुपयोग होने के डर से उसका इस्तेमाल करने से घबराते हैं, ऐसे में आप उन्हें समझदारी के साथ क्रेडिट कार्ड के इस्तेमाल के फायदे बताते हुए उसे अपने पास रखने के लिए तैयार कर सकते हैं। इससे पैसों की जरूरत पड़ने पर उन्हें परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। 

हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी
किसी भी छोटी या बड़ी हेल्थ प्रॉब्लम्स से निपटने के लिए पिता को हेल्थ इंश्योरेंस दिया जा सकता है। यह बुरे वक्त में उन्हें वित्तीय सुरक्षा प्रदान करेगा। अगर उन्होंने पहले से कोई हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी ले रखी है, तो आप उसका टॉप कराते हुए उन्हें हायर कवरेज दिलवा सकते हैं। हेल्थ इंश्योरेंस कराते हुए भी आयकर की धारा 80डी के तहत टैक्स फायदा लिया जा सकता है। 

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना
केंद्र सरकार द्वारा वरिष्ठ नागरिकों के लिए शुरू की गई प्रधानमंत्री वय वंदना योजना (पीएमवीवीवाय)  में भी निवेश कर सकते हैं। इस योजना में 31 मार्च 2023 तक निवेश किया जा सकता। यह 60 साल और उससे अधिक उम्र के नागरिकों के लिए एक पेंशन योजना है। इस योजना का लाभ एकमुश्त राशि का भुगतान करके लिया जा सकता है। 7.40 फीसदी सालाना की दर से सुनिश्चित भुगतान किया जाएगा। इसे मासिक दिया जाएगा। यानी यह सालाना 7.66 फीसदी के बराबर हो जाता है। इसमें अधिकतम 15 लाख रुपए निवेश किए जा सकते हैं। 15 लाख पर आपको हर महीने 9,250 रुपए पेंशन मिलेगी। स्कीम के बारे में अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम
इसमें 6.6 फीसदी कर दिया जा रहा है। इस स्कीम के तहत अकाउंट को मिनिमम 1000 रुपए से खुलवा सकते हैं। खास बात है कि स्कीम पूरा होने के बाद आपको अपने पूरे पैसे भी वापस मिल जाएंगे। यानी इस अकाउंट से आपके लिए रेग्युलर इनकम की गारंटी सुनिश्चित हो सकती है। अगर आपका अकाउंट सिंगल है तो आप 4.5 लाख रुपए तक अधिकतम जमा कर सकते हैं। वहीं अगर आपका ज्वाइंट अकाउंट है तो इसमें अधिकतम 9 लाख रुपए जमा किए जा सकते हैं। मेच्योरिटी पीरियड 5 साल है। इस योजना के तहत अगर आप 4.5 लाख रुपए का निवेश करते हैं तो अब आपको 6.6 सालाना ब्याज दर के हिसाब से सालाना 29700 रुपए ब्याज मिलेंगे। वहीं अगर आप इसमें ज्वाइंट अकाउंट के तहत 9 लाख का निवेश करते हैं तो आपको 59,400 साल का ब्याज मिलेगा। स्कीम के बारे में अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

.(tagsToTranslate)fathers day(t)father(t)Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana(t)credit card

[Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by News Uttarakhand. Publisher: Dainik Bhaskar]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

रुद्रप्रयाग: जखोली ब्लॉक प्रमुख प्रदीप थपलियाल ने आपदा प्रभावित गांवों की मद्दद के लिए आगे आये साथ ही अधिकारियों को राहत वितरण के दिए...

उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग में गदेरे (बरसाती नाले) में आज सोमवार को बादल फटने से व्यापक तबाही हो गई है। बादलों की इस आपदा में...

सिविल सेवा परीक्षा में छाए उत्तराखंड के होनहार, रामनगर के शुभम ने हासिल किया 43वां स्थान

संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा परीक्षा में उत्तराखंड के युवाओं का डंका बजा है। रामनगर निवासी शुभम बसंल ने परीक्षा में ऑल...

पहाड़ों में भी साइबर अपराधी तलाशने लगे शिकार, बचना है तो इन बातों का रखें ख्याल

साइबर अपराधी अब तक धनाढ्य वर्ग या फिर नौकरीपेशा को ही शिकार के लिए चुनते थे। मगर इंटरनेट और डिजिटल पेमेंट के प्रति बढ़ी...

रक्षाबंधन से पहले लद्दाख बॉर्डर पर शहीद हुए भाई को तिरंगे में लिपटा हुआ पार्थिव शरीर देखकर बिलख पड़ी बहन

उत्तराखंड: लद्दाख में शहीद हुए उत्तराखंड के लाल देव बहादुर का ग्राम गोरीकलां के निकट शमशान घाट पर राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार...

Recent Comments

Translate »