24.3 C
Dehradun
Thursday, August 6, 2020
Home Uttarakhand Coronavirus In Uttarakhand: One More Corona Positive Patient Died, Seven Deaths...

[News Uttarakhand:] Coronavirus In Uttarakhand: One More Corona Positive Patient Died, Seven Deaths Till Now – Coronavirus: उत्तराखंड में एक और कोरोना संक्रमित मरीज की मौत, अब तक सात की जान चुकी जान

[ad_1]

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, देहरादून
Updated Tue, 02 Jun 2020 09:32 PM IST

ख़बर सुनें

उत्तराखंड में एक और कोरोना संक्रमित मरीज की इलाज के दौरान मौत हो गई। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार संक्रमित मरीज की मौत कोरोना संक्रमण से नहीं हुई है। बल्कि कार्डियक रेसपाइरेटरी अरेस्ट (दिल की धड़कन का अचानक थम जाना) है। प्रदेश में अब तक सात कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार चंपावत जिले के लोहाघाट निवासी 44 वर्षीय व्यक्ति की ट्रेवल हिस्ट्री है। जो मुुंबई से आया था। कोरोना के संदिग्ध लक्षण दिखाई देने पर सैंपल जांच के लिए भेजा गया था। 24 मई को वह पॉजिटिव पाया गया था। संक्रमित मरीज को सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज में भर्ती किया गया था। जहां उसकी मौत हो गई।

यह भी पढ़े: Coronavirus in Uttarakhand : राज्य में आज मिले 41 मरीज, अकेले दून में सामने आए 26 केस, कुल संख्या हुई 999

अपर सचिव युगल किशोर पंत ने बताया कि चंपावत जिले के एक कोरोना संक्रमित मरीज की मौत हो गई है। डेथ रिपोर्ट के अनुसार मौत का कारण दिल की धड़कन कम होना और श्वसन तंत्र फेल होना रहा है। बता दें कि देहरादून, नैनीताल, पौड़ी और चंपावत जिले में अब तक सात संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है। इसमें किसी भी मृतक की मौत का कारण कोरोना संक्रमण नहीं पाया गया है।

प्रदेश में कोरोना संक्रमण का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है। मैदानी क्षेत्रों की तुलना में पहाड़ों में संक्रमण की दर ज्यादा है। देहरादून, हरिद्वार और ऊधमसिंह नगर में संक्रमण की दर 3.0 प्रतिशत से कम है। जबकि नौ पर्वतीय जिलों में संक्रमण दर 4.0 प्रतिशत से अधिक है।

प्रदेश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा एक हजार के पार हो गया है। देहरादून और नैनीताल जिले में संक्रमित मरीजों की संख्या सबसे ज्यादा है। वहीं, सैंपलिंग के आधार पर देहरादून, हरिद्वार और ऊधमसिंह नगर में संक्रमण की दर 3.0 प्रतिशत से कम है।

टिहरी, अल्मोड़ा, चंपावत, पौड़ी, पिथौरागढ़, चमोली में संक्रमण की दर 4.0 प्रतिशत से अधिक है। पर्वतीय जिलों में संक्रमण की दर बढ़ने की वजह यही है कि सैंपलों की जांच मैदानी जिलों की तुलना में कम है।

बाहरी राज्यों से लौटे लोगों से प्रदेश में संक्रमण का ग्राफ बढ़ा है। महाराष्ट्र और दिल्ली से आए लोग में संक्रमण मिलने से पहाड़ों में संक्रमितों की संख्या बढ़ी है। टिहरी जिले में संक्रमितों का आंकड़ा 88 पहुंच गया है। प्रदेश में रुद्रप्रयाग एक मात्र जिला है, जहां पर अभी संक्रमित मरीजों की संख्या छह है।

सार

  • किसी भी मरीज की मौत का कारण कोरोना नहीं,पहाड़ों पर संक्रमण की दर ज्यादा

विस्तार

उत्तराखंड में एक और कोरोना संक्रमित मरीज की इलाज के दौरान मौत हो गई। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार संक्रमित मरीज की मौत कोरोना संक्रमण से नहीं हुई है। बल्कि कार्डियक रेसपाइरेटरी अरेस्ट (दिल की धड़कन का अचानक थम जाना) है। प्रदेश में अब तक सात कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार चंपावत जिले के लोहाघाट निवासी 44 वर्षीय व्यक्ति की ट्रेवल हिस्ट्री है। जो मुुंबई से आया था। कोरोना के संदिग्ध लक्षण दिखाई देने पर सैंपल जांच के लिए भेजा गया था। 24 मई को वह पॉजिटिव पाया गया था। संक्रमित मरीज को सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज में भर्ती किया गया था। जहां उसकी मौत हो गई।

यह भी पढ़े: Coronavirus in Uttarakhand : राज्य में आज मिले 41 मरीज, अकेले दून में सामने आए 26 केस, कुल संख्या हुई 999

अपर सचिव युगल किशोर पंत ने बताया कि चंपावत जिले के एक कोरोना संक्रमित मरीज की मौत हो गई है। डेथ रिपोर्ट के अनुसार मौत का कारण दिल की धड़कन कम होना और श्वसन तंत्र फेल होना रहा है। बता दें कि देहरादून, नैनीताल, पौड़ी और चंपावत जिले में अब तक सात संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है। इसमें किसी भी मृतक की मौत का कारण कोरोना संक्रमण नहीं पाया गया है।


आगे पढ़ें

पहाड़ों पर संक्रमण की दर ज्यादा

[सभी पाठकों से अनुरोध है कि उत्तराखंड की ख़बरें, उत्तराखंड के रोचक वीडियो के लिए हमारे Youtube चैनल को नीचे लिंक पर क्लिक कर जरुर Subscribe करें- https://bit.ly/3bWUSGE ]

[Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by News Uttarakhand. Publisher: Amar Ujala]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

रक्षाबंधन से पहले लद्दाख बॉर्डर पर शहीद हुए भाई को तिरंगे में लिपटा हुआ पार्थिव शरीर देखकर बिलख पड़ी बहन

उत्तराखंड: लद्दाख में शहीद हुए उत्तराखंड के लाल देव बहादुर का ग्राम गोरीकलां के निकट शमशान घाट पर राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार...

ऋषिकेश कर्णप्रयाग रेल लाइन पर सीएम ने की समीक्षा, आइये बताते है आपको इस विषय में :

ऋषिकेश कर्णप्रयाग रेल लाइन परियोजना पर बहुत ही तेजी से काम चल रहा है। लॉकडाउन में राहत मिलते ही इस, परियोजना के रुके हुए...

उत्तराखंड के निजी अस्पतालों में अब आयुष्मान गोल्डन कार्ड पर कैशलेस होगा कोरोना वायरस के मरीजों का इलाज

उत्तराखंड सरकार ने निजी अस्पतालों को कोरोना संक्रमितों का इलाज करने की इजादात दे दी है। राज्य अटल आयुष्मान योजना में गोल्डन कार्ड धारकों...

युवा कांग्रेस द्वारा सरकार से की गई मांग, चार महीने से बंद पड़े फिटनेस सेंटरों को खोला जाए

देहरादून:युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कोरोना वायरस महामारी के कारण पिछले चार महीने से बंद फिटनेस सेंटरों और जिम को खोलने की मांग की गई...

Recent Comments

Translate »