24.3 C
Dehradun
Sunday, August 9, 2020
Home National News Uttarakhand: Coronavirus Lockdown 5.0: PM Narendra Modi gave 5I mantra to...

News Uttarakhand: Coronavirus Lockdown 5.0: PM Narendra Modi gave 5I mantra to make India development speed and self-reliant in lockdown – कोरोना संकटः ‘आत्मनिर्भर’ भारत के विकास को PM नरेंद्र मोदी का 5-‘I’ मंत्र, बोले- मुझे यकीन है, हम फिर दौड़ेंगे

Coronavirus Lockdown 5.0: कोरोना वायरस और लॉकडाउन काल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार (2 जून, 2020) को देश को विकास की रफ्तार और आत्मनिर्भर बनाने को लेकर अपने मन की बात देश के सामने रखी। 5-‘I’ (Intent, Inclusion, Investment, Infrastructure and Innovation) का मंत्र देते हुए उन्होंने कहा- ये पांच चीजें देश के विकास को गति देने और खुद को आत्मनिर्भर बनाने के लिए बेहद जरूरी हैं। हाल ही में आपने ये चीजें हमारी सरकार द्वारा उठाए गए कदमों में भी देखी होंगी।

पीएम मोदी के मुताबिक आज देश जिस दिशा में बढ़ रहा है। फिर चाहे वह माइनिंग, एनर्जी या फिर रिसर्च और टेक्नोलॉजी का सेक्टर हो…हर क्षेत्र में हमारे युवाओं के लिए ढेर सारे नए अवसर होंगे। बकौल मोदी, “कोरोना के खिलाफ अर्थव्यवस्था में फिर से जान फूंकना हमारी सबसे बड़ी और पहली प्राथमिकताओं में से एक है। इसके लिए हमारी सरकार ने फौरन फैसले लिए। हमने ऐसे निर्णय भी लिए, जो कि आगे देश को इस दौड़ में खासा मदद करेंगे।”

Weather Forecast Today, Cyclone Nisarga LIVE Updates

Confederation of Indian Industry (CII) के 125वें वार्षिक सत्र के मौके पर पीएम ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कहा कि मैं तो गेटिंग ग्रोथ बैक से आगे बढ़कर ये भी कहूंगा। हां, मुझे यकीन है कि हम अपनी ग्रोथ को वापस हासिल कर लेंगे। कई लोग कहेंगे कि मैं इस संकट की घड़ी में कैसे ये कह सकता हूं। मुझे भारतीय क्षमता, कीमत प्रबंधन, प्रतिभा, तकनीक, बुद्धिजीवियों, किसानों, एसएमई, उद्यमियों और उद्योग जगत के लीडर्स आदि पर भरोसा है।

पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना ने हमारी स्पीड जितनी भी धीमी की हो, लेकिन आज देश की सबसे बड़ी सच्चाई यही है कि भारत, लॉकडाउन को पीछे छोड़कर UnLockPhase1 में प्रवेश कर चुका है। UnLockPhase1 में इकोनॉमी का बहुत बड़ा हिस्सा खुल चुका है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना ने गरीबों को तुरंत लाभ देने में बहुत मदद की है। इस योजना के तहत 74 करोड़ लाभार्थियों के घर तक राशन पहुंचाया जा चुका है। प्रवासी श्रमिको के लिए भी फ्री राशन पहुंचाया जा रहा है। इसके अलावा अभी तक गरीब परिवारों को 53000 करोड़ रुपए से ज्यादा की आर्थिक सहायता दी जा चुकी है। महिलाएं, दिव्यांग, बुजुर्ग हो या श्रमिक हो हर किसी को इससे लाभ मिला है।

Lockdown 5.0/Unlock 1 LIVE Updates

मोदी ने कहा कि इतना ही नहीं प्राइवेट सेक्टर के 50 लाख कर्मचारियों के खाते में 24% EPF का योगदान सरकार ने दिया है। इनके खाते में करीब 800 करोड़ रुपए जमा करवाए गए हैं। सरकार आज ऐसे पॉलिसी रिफ़ार्म भी कर रही है जिनकी देश ने उम्मीद भी छोड़ दी थी। अगर मैं कृषि सेक्टर की बात करूं तो हमारे यहां आजादी के बाद जो नियम-कायदे बने, उसमें किसानों को बिचौलियों के हाथों में छोड़ दिया गया था। APMC एक्ट में बदलाव के बाद अब किसान जिसे चाहे अपनी फसल बेच सकता है।

उन्होंने कहा कि MSMEs की परिभाषा स्पष्ट करने की मांग लंबे समय से उद्योग जगत कर रहा था, वो पूरी हो चुकी है। इससे MSMEs बिना किसी चिंता के ग्रो कर पाएंगे और उनको MSMEs का स्टेट्स बनाए रखने के लिए दूसरे रास्तों पर चलने की ज़रूरत नहीं रहेगी।

[Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by News Uttarakhand. Publisher: Jansatta]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

सिविल सेवा परीक्षा में छाए उत्तराखंड के होनहार, रामनगर के शुभम ने हासिल किया 43वां स्थान

संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा परीक्षा में उत्तराखंड के युवाओं का डंका बजा है। रामनगर निवासी शुभम बसंल ने परीक्षा में ऑल...

पहाड़ों में भी साइबर अपराधी तलाशने लगे शिकार, बचना है तो इन बातों का रखें ख्याल

साइबर अपराधी अब तक धनाढ्य वर्ग या फिर नौकरीपेशा को ही शिकार के लिए चुनते थे। मगर इंटरनेट और डिजिटल पेमेंट के प्रति बढ़ी...

रक्षाबंधन से पहले लद्दाख बॉर्डर पर शहीद हुए भाई को तिरंगे में लिपटा हुआ पार्थिव शरीर देखकर बिलख पड़ी बहन

उत्तराखंड: लद्दाख में शहीद हुए उत्तराखंड के लाल देव बहादुर का ग्राम गोरीकलां के निकट शमशान घाट पर राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार...

ऋषिकेश कर्णप्रयाग रेल लाइन पर सीएम ने की समीक्षा, आइये बताते है आपको इस विषय में :

ऋषिकेश कर्णप्रयाग रेल लाइन परियोजना पर बहुत ही तेजी से काम चल रहा है। लॉकडाउन में राहत मिलते ही इस, परियोजना के रुके हुए...

Recent Comments

Translate »