24.3 C
Dehradun
Sunday, September 27, 2020
Home Uttarakhand News Uttarakhand: Family Of Those Who Died In The Accident Received 10...

News Uttarakhand: Family Of Those Who Died In The Accident Received 10 Lakh Compensation

ख़बर सुनें

कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने सरकार पर पर्यटक विकास को लेकर कोटी कालोनी में निर्मित संपत्तियों को निजी हाथों में सौंपने का आरोप लगाया है। उन्होंने सरकार से पहाड़ों में वाहन दुर्घटनाओं को रोकने के लिए ठोस कदम उठाने और दुर्घटनाओं में जान गवांने वाले परिजनों को 10 लाख रुपये मुआवजा देने की मांग की है।
पार्टी कार्यालय में पत्रकार वार्ता करते हुए पूर्व प्रदेश अध्यक्ष उपाध्याय ने कहा कि कोटी कालोनी में निर्मित हट्स, होटल समेत करोड़ों की संपत्तियों को सरकार ने सस्ती दरों पर एक निजी कंपनी को सौंप दी है। वह कंपनी स्थानीय लोगों को भी इसमें रोजगार नहीं दे रही है। कहा कि खराब सड़कों के कारण पहाड़ों में लगातार वाहन दुर्घटनाएं हो रही है। सरकार को वाहन दुर्घटनाओं को रोकने के लिए सख्त कदम उठाने चाहिए। कहा कि दुर्घटनाओं में जान गवांने वाले परिजनों को मिलने वाले मुआवजा में भी भेदभाव किया जा रहा है। कहा कि मृतक परिजनों को कम से कम 10 लाख रुपये आर्थिक सहायता, दुर्घटना की जांच रिपोर्ट एक सप्ताह में आने समेत अन्य कदम उठाने चाहिए। इस मौके पर जिलाध्यक्ष राकेश राणा, महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष दर्शनी रावत, शहर अध्यक्ष देवेंद्र नौडियाल, मुशर्रफ अली, कुलदीप पंवार, लखवीर चौहान, किशोर मंद्रवाल, आशा रावत, ममता उनियाल, सतीश चमोली आदि मौजूद थे।

कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने सरकार पर पर्यटक विकास को लेकर कोटी कालोनी में निर्मित संपत्तियों को निजी हाथों में सौंपने का आरोप लगाया है। उन्होंने सरकार से पहाड़ों में वाहन दुर्घटनाओं को रोकने के लिए ठोस कदम उठाने और दुर्घटनाओं में जान गवांने वाले परिजनों को 10 लाख रुपये मुआवजा देने की मांग की है।

पार्टी कार्यालय में पत्रकार वार्ता करते हुए पूर्व प्रदेश अध्यक्ष उपाध्याय ने कहा कि कोटी कालोनी में निर्मित हट्स, होटल समेत करोड़ों की संपत्तियों को सरकार ने सस्ती दरों पर एक निजी कंपनी को सौंप दी है। वह कंपनी स्थानीय लोगों को भी इसमें रोजगार नहीं दे रही है। कहा कि खराब सड़कों के कारण पहाड़ों में लगातार वाहन दुर्घटनाएं हो रही है। सरकार को वाहन दुर्घटनाओं को रोकने के लिए सख्त कदम उठाने चाहिए। कहा कि दुर्घटनाओं में जान गवांने वाले परिजनों को मिलने वाले मुआवजा में भी भेदभाव किया जा रहा है। कहा कि मृतक परिजनों को कम से कम 10 लाख रुपये आर्थिक सहायता, दुर्घटना की जांच रिपोर्ट एक सप्ताह में आने समेत अन्य कदम उठाने चाहिए। इस मौके पर जिलाध्यक्ष राकेश राणा, महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष दर्शनी रावत, शहर अध्यक्ष देवेंद्र नौडियाल, मुशर्रफ अली, कुलदीप पंवार, लखवीर चौहान, किशोर मंद्रवाल, आशा रावत, ममता उनियाल, सतीश चमोली आदि मौजूद थे।

.(tagsToTranslate)10 lakh compensation

[Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by News Uttarakhand. Publisher: Amar Ujala]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

नोएडा में फिल्म सिटी बनाने का एलान के बाद नोएडा प्राधिकरण ने उसको लेकर तैयारी भी शुरू कर दी है

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नोएडा में फिल्म सिटी बनाने का एलान के बाद नोएडा में फिल्म सिटी बनाने को लेकर शुरू...

जेल में चौंकाने वाला मामला सामने आया है.. कैदी ने मोबाइल पर बात करने के लिए ऐसी जगह छुपाया मोबाइल,अस्पताल में करना पड़ा...

राजस्थान की जोधपुर की सेंट्रल जेल में एक बहुत ही आश्चर्य करने वाला मामला सामने आया है। यहां एक कैदी ने मोबाइल छिपाने के...

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमित विधायकों की संख्या बढ़ती जा रही है, BJP के 7 और कांग्रेस के 2 विधायक अब तक कोरोना से संक्रमित

विधानसभा के मॉनसून सत्र की अवधि नजदीक आते-आते कोरोना संक्रमित विधायकों की संख्या बढ़ती जा रही है। अभी तक भाजपा के ही विधायक संक्रमित...

उत्तराखंड कोरोना अपडेट: राज्य में कोरोना के रिकॉर्ड 2078 नए मामले, कुल संख्या 40000 के पार, अब तक 478 की मौत

उत्तराखंड में शनिवार को पहली बार एक ही दिन में कोरोना के दो हजार से अधिक मरीज मिले। एक ही दिन में रिकार्ड 2078...

Recent Comments

Translate »