24.3 C
Dehradun
Monday, September 21, 2020
Home Uttarakhand Prosionar Auto Rickshaw Driver Death In Sadar Jail During Recovery In...

[News Uttarakhand:] Prosionar Auto Rickshaw Driver Death In Sadar Jail During Recovery In Haridwar – हरिद्वार: रिकवरी को लेकर सदर हवालात में बंद ऑटो चालक की मौत, परिजनों ने किया हंगामा

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हरिद्वार
Updated Mon, 09 Mar 2020 09:02 PM IST

ख़बर सुनें

हरिद्वार में रिकवरी के मामले में हरिद्वार तहसील की (सदर हवालात) में कैद पेशे से ऑटो चालक की अभिरक्षा में मौत हो गई। मौत से गुस्साए परिजन ने देर रात जिला अस्पताल में जमकर हंगामा काटा।

वे तहसीलदार आशीष घिल्डियाल को बर्खास्त करने की मांग पर अड़े हुए थे। दिन भर जिला अस्पताल कैंपस में पोस्टमार्टम होने तक तहसील प्रशासन के अधिकारी डटे रहे। देर शाम कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मृतक को कब्रिस्तान में सुपुर्द ए खाक किया गया।

ज्वालापुर क्षेत्र के मोहल्ला पांवधोई में पेशे से ऑटो चालक मुर्तजा (43) पुत्र मुश्ताक ने वर्ष 2004 में अपना ऑटो एक परिचित को बेच दिया था। अधिकृत तौर पर ऑटो रिक्शा परिचित के नाम नहीं हुआ था, केवल स्टांप पर खरीद फरोख्त का इकरारनामा हुआ था।

कुछ समय बाद ऑटो रिक्शा दुर्घटनाग्रस्त हो गया। क्लेम करने पर बीमा कंपनी ने क्लेम की रकम ऑटो रिक्शा के ड्राइवर को अदा कर दी थी। कुछ समय बाद बीमा कंपनी ने गलत ढंग से क्लेम लेने के आरोप में अधिकृत स्वामी मुर्तजा के खिलाफ कोर्ट में वाद दायर किया था।

निचली अदालत से फैसला मुर्तजा के पक्ष में आया था। निचली अदालत के फैसले के खिलाफ बीमा कंपनी हाईकोर्ट चली गई थी। कुछ समय पूर्व हाईकोर्ट ने अधिकृत स्वामी से ही रिकवरी करने के आदेश देते हुए प्रकरण की फाइल निचली अदालत को भेज दी थी।

पिछले दिनों  एडीजी द्वितीय कोर्ट ने 2.57 लाख के रिवकरी वारंट जारी किए थे। उसी के आधार पर रविवार को तहसील प्रशासन ने मुर्तजा को अभिरक्षा में लेते हुए सदर हवालात में कैद कर दिया था।

रविवार की देर रात हवालात में कैद मुर्तजा की हालात बिगड़ गई थी। आनन फानन में तहसील कर्मचारी मनोज उसे जिला अस्पताल लेकर पहुंचा, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।  मौत की जानकारी मिलने पर परिजन एवं परिचितों ने जिला अस्पताल में पहुंचकर हंगामा काटा।

अभिरक्षा में मौत से तहसील प्रशासन के हाथ पांव फूल गए। आनन फानन में एसडीएम कुश्म चौहान, तहसीलदार आशीष घिल्डियाल, सिटी मजिस्ट्रेट, सीओ सिटी अभय प्रताप सिंह मौके पर पहुंच गए।  सोमवार की सुबह चिकित्सकों के पैनल से मुर्तजा के शव का पोस्टमार्टम कराया गया।

सार

  • रिकवरी अदा नहीं करने पर तहसील प्रशासन ने किया था कैद
  • परिजन ने तहसीलदार पर गंभीर आरोप लगाते हुए काटा हंगामा

विस्तार

हरिद्वार में रिकवरी के मामले में हरिद्वार तहसील की (सदर हवालात) में कैद पेशे से ऑटो चालक की अभिरक्षा में मौत हो गई। मौत से गुस्साए परिजन ने देर रात जिला अस्पताल में जमकर हंगामा काटा।

वे तहसीलदार आशीष घिल्डियाल को बर्खास्त करने की मांग पर अड़े हुए थे। दिन भर जिला अस्पताल कैंपस में पोस्टमार्टम होने तक तहसील प्रशासन के अधिकारी डटे रहे। देर शाम कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मृतक को कब्रिस्तान में सुपुर्द ए खाक किया गया।

ज्वालापुर क्षेत्र के मोहल्ला पांवधोई में पेशे से ऑटो चालक मुर्तजा (43) पुत्र मुश्ताक ने वर्ष 2004 में अपना ऑटो एक परिचित को बेच दिया था। अधिकृत तौर पर ऑटो रिक्शा परिचित के नाम नहीं हुआ था, केवल स्टांप पर खरीद फरोख्त का इकरारनामा हुआ था।

कुछ समय बाद ऑटो रिक्शा दुर्घटनाग्रस्त हो गया। क्लेम करने पर बीमा कंपनी ने क्लेम की रकम ऑटो रिक्शा के ड्राइवर को अदा कर दी थी। कुछ समय बाद बीमा कंपनी ने गलत ढंग से क्लेम लेने के आरोप में अधिकृत स्वामी मुर्तजा के खिलाफ कोर्ट में वाद दायर किया था।

.(tagsToTranslate)Prosionar auto rickshaw driver death(t)prosionar death(t)prosionar death in jail(t)uttarakhand news(t)dead body(t)loan recovry(t)Dehradun News in Hindi(t)Latest Dehradun News in Hindi(t)Dehradun Hindi Samachar

[Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by News Uttarakhand. Publisher: Amar Ujala]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

जेल में चौंकाने वाला मामला सामने आया है.. कैदी ने मोबाइल पर बात करने के लिए ऐसी जगह छुपाया मोबाइल,अस्पताल में करना पड़ा...

राजस्थान की जोधपुर की सेंट्रल जेल में एक बहुत ही आश्चर्य करने वाला मामला सामने आया है। यहां एक कैदी ने मोबाइल छिपाने के...

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमित विधायकों की संख्या बढ़ती जा रही है, BJP के 7 और कांग्रेस के 2 विधायक अब तक कोरोना से संक्रमित

विधानसभा के मॉनसून सत्र की अवधि नजदीक आते-आते कोरोना संक्रमित विधायकों की संख्या बढ़ती जा रही है। अभी तक भाजपा के ही विधायक संक्रमित...

उत्तराखंड कोरोना अपडेट: राज्य में कोरोना के रिकॉर्ड 2078 नए मामले, कुल संख्या 40000 के पार, अब तक 478 की मौत

उत्तराखंड में शनिवार को पहली बार एक ही दिन में कोरोना के दो हजार से अधिक मरीज मिले। एक ही दिन में रिकार्ड 2078...

प्राइवेट अस्पताल से रूठ, सात घंटे बाद सिनर्जी में हुई भर्ती नेता प्रतिपक्ष डॉ. इंदिरा हृदयेश

कोरेाना के उपचार के लिए हल्द्वानी से देहरादून आईं नेता प्रतिपक्ष डॉ. इंदिरा हृदयेश। दोपहर तीन बजे से रात करीब सवा दस दस बजे...

Recent Comments

Translate »