24.3 C
Dehradun
Thursday, August 6, 2020
Home Uttarakhand Shantikunj Physical Assault Case: Victim Statement Will Be Recorded Today From...

[News Uttarakhand:] Shantikunj Physical Assault Case: Victim Statement Will Be Recorded Today From Video Recording – शांतिकुंज दुष्कर्म प्रकरण: वीडियो रिकॉर्डिंग के साथ आज दर्ज होंगे दुष्कर्म पीड़िता के बयान

[ad_1]

न्यूज़ डेस्क, अमर उजाला, हरिद्वार
Updated Tue, 02 Jun 2020 10:18 AM IST

प्रतीकात्मक तस्वीर
– फोटो : सोशल मीडिया

ख़बर सुनें

शांतिकुंज प्रमुख डॉ. प्रणव पंड्या पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली छत्तीसगढ़ की पीड़िता सोमवार को कोर्ट में बयान दर्ज कराने दिल्ली से हरिद्वार पहुंची, लेकिन पीड़िता के वकीलों की ओर से वीडियो रिकॉर्डिंग के आग्रह के चलते बयान दर्ज नहीं हुआ। कोर्ट ने वीडियो रिकॉर्डिंग के आग्रह को स्वीकार कर लिया है। ऐसे में अब आज मंगलवार को पीड़िता के बयान दर्ज किए जाएंगे।

शांतिकुंज दुष्कर्म प्रकरण: पुलिस ने आरोपी डॉ. प्रणव पंड्या से करीब डेढ़ घंटे तक की पूछताछ

छत्तीसगढ़ की युवती ने शांतिकुंज प्रमुख डॉ. प्रणव पंड्या पर वर्ष 2010 में दुष्कर्म का आरोप लगाया था। पांच मई को दिल्ली पुलिस ने जीरो एफआईआर दर्ज कर तफ्तीश के लिए मामला हरिद्वार ट्रांसफर कर दिया था। आरोप था कि डॉ. पंड्या की पत्नी ने भी शिकायत करने पर पीड़िता को गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी थी। उनके खिलाफ भी केस दर्ज कर पुलिस ने हाईप्रोफाइल प्रकरण की जांच शुरू कर दी थी। शनिवार देर रात जांच अधिकारी मीना आर्या की अगुवाई में पुलिस टीम ने शांतिकुंज पहुंचकर डॉ. पंड्या से पूछताछ की थी।

सोमवार को पीड़िता दिल्ली से अपनी मां और अन्य परिजनों के साथ हरिद्वार जिला अदालत पहुंची। एसीजेएम प्रथम कोर्ट में उसके बयान दर्ज होने थे, लेकिन पीड़िता ने वकील के माध्यम से आग्रह किया कि उसके बयान की वीडियो रिकॉर्डिंग कराई जाए, जिसे कोर्ट ने स्वीकार कर लिया। देर शाम महिला चिकित्सालय में पीड़िता का मेडिकल परीक्षण किया गया।

पीड़िता के मुकदमे की पैरवी के लिए सुप्रीम कोर्ट से भी वकील हरिद्वार पहुंचे हैं। सुप्रीम कोर्ट के वकील डॉ. एपी सिंह अपनी टीम के साथ कोर्ट में मुकदमे की पैरवी कर रहे हैं। डॉ. सिंह ने बताया कि पीड़िता की जान को खतरे की आशंका है। इसीलिए बयानों की वीडियो रिकॉर्डिंग कराने का आग्रह किया गया है। कहीं ऐसा न हो कि उन्नाव जैसे प्रकरण की पुनरावृत्ति हो जाए।

हरिद्वार पुलिस देगी सुरक्षा

एसएसपी डी सेंथिल अबूदई कृष्णराज एस ने बताया कि पीड़िता बयान दर्ज कराने खुद हरिद्वार पहुंची है। जो भी कानूनी प्रक्रिया है, वह संपन्न कराई जा रही है। वहीं, हरिद्वार पुलिस उसे पूरी सुरक्षा प्रदान करेगी। चूंकि मामला हाईप्रोफाइल है, लिहाजा पुलिस पूरी तरह से सतर्कता बरत रही है। पीड़िता को सुरक्षित स्थान पर ठहराया जाएगा, जिससे सुरक्षा को लेकर कोई सवाल न खड़े हों।

सार

  • शांतिकुंज प्रमुख डॉ. प्रणव पंड्या पर है दुष्कर्म का आरोप, सोमवार को परिजनों संग हरिद्वार पहुंची पीड़िता

विस्तार

शांतिकुंज प्रमुख डॉ. प्रणव पंड्या पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली छत्तीसगढ़ की पीड़िता सोमवार को कोर्ट में बयान दर्ज कराने दिल्ली से हरिद्वार पहुंची, लेकिन पीड़िता के वकीलों की ओर से वीडियो रिकॉर्डिंग के आग्रह के चलते बयान दर्ज नहीं हुआ। कोर्ट ने वीडियो रिकॉर्डिंग के आग्रह को स्वीकार कर लिया है। ऐसे में अब आज मंगलवार को पीड़िता के बयान दर्ज किए जाएंगे।

शांतिकुंज दुष्कर्म प्रकरण: पुलिस ने आरोपी डॉ. प्रणव पंड्या से करीब डेढ़ घंटे तक की पूछताछ

छत्तीसगढ़ की युवती ने शांतिकुंज प्रमुख डॉ. प्रणव पंड्या पर वर्ष 2010 में दुष्कर्म का आरोप लगाया था। पांच मई को दिल्ली पुलिस ने जीरो एफआईआर दर्ज कर तफ्तीश के लिए मामला हरिद्वार ट्रांसफर कर दिया था। आरोप था कि डॉ. पंड्या की पत्नी ने भी शिकायत करने पर पीड़िता को गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी थी। उनके खिलाफ भी केस दर्ज कर पुलिस ने हाईप्रोफाइल प्रकरण की जांच शुरू कर दी थी। शनिवार देर रात जांच अधिकारी मीना आर्या की अगुवाई में पुलिस टीम ने शांतिकुंज पहुंचकर डॉ. पंड्या से पूछताछ की थी।

सोमवार को पीड़िता दिल्ली से अपनी मां और अन्य परिजनों के साथ हरिद्वार जिला अदालत पहुंची। एसीजेएम प्रथम कोर्ट में उसके बयान दर्ज होने थे, लेकिन पीड़िता ने वकील के माध्यम से आग्रह किया कि उसके बयान की वीडियो रिकॉर्डिंग कराई जाए, जिसे कोर्ट ने स्वीकार कर लिया। देर शाम महिला चिकित्सालय में पीड़िता का मेडिकल परीक्षण किया गया।


आगे पढ़ें

दिल्ली से पैरवी को पहुंचे वकील

[सभी पाठकों से अनुरोध है कि उत्तराखंड की ख़बरें, उत्तराखंड के रोचक वीडियो के लिए हमारे Youtube चैनल को नीचे लिंक पर क्लिक कर जरुर Subscribe करें- https://bit.ly/3bWUSGE ]

[Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by News Uttarakhand. Publisher: Amar Ujala]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

रक्षाबंधन से पहले लद्दाख बॉर्डर पर शहीद हुए भाई को तिरंगे में लिपटा हुआ पार्थिव शरीर देखकर बिलख पड़ी बहन

उत्तराखंड: लद्दाख में शहीद हुए उत्तराखंड के लाल देव बहादुर का ग्राम गोरीकलां के निकट शमशान घाट पर राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार...

ऋषिकेश कर्णप्रयाग रेल लाइन पर सीएम ने की समीक्षा, आइये बताते है आपको इस विषय में :

ऋषिकेश कर्णप्रयाग रेल लाइन परियोजना पर बहुत ही तेजी से काम चल रहा है। लॉकडाउन में राहत मिलते ही इस, परियोजना के रुके हुए...

उत्तराखंड के निजी अस्पतालों में अब आयुष्मान गोल्डन कार्ड पर कैशलेस होगा कोरोना वायरस के मरीजों का इलाज

उत्तराखंड सरकार ने निजी अस्पतालों को कोरोना संक्रमितों का इलाज करने की इजादात दे दी है। राज्य अटल आयुष्मान योजना में गोल्डन कार्ड धारकों...

युवा कांग्रेस द्वारा सरकार से की गई मांग, चार महीने से बंद पड़े फिटनेस सेंटरों को खोला जाए

देहरादून:युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कोरोना वायरस महामारी के कारण पिछले चार महीने से बंद फिटनेस सेंटरों और जिम को खोलने की मांग की गई...

Recent Comments

Translate »